Tue. Dec 3rd, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

सिक्किम

गंगटोक,  मुख्यमंत्री एवं सिक्किम क्रांतिकारी मोर्चा (एसकेएम) पार्टी के अध्यक्ष प्रेम सिंह तमांग (पीएस गोले) के साथ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के दो नवनिर्वाचित विधायकों वाईटी लेप्चा और सोनाम भेंचुंगपा ने सोमवार को सिक्किम विधानसभा में पद एवं गोपनीयता का शपथ लिया। सभी विधायक राज्य में हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा उपचुनाव में निर्वाचित हुए हैं। विधानसभा अध्यक्ष एलबी दास ने निर्वाचित तीनों विधायकों को शपथ दिलाई। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री पीएस गोले बिना चुनाव लड़े ही मुख्यमंत्री बने थे। भ्रष्टाचार के आरोप में एक साल की सजा काटने के बाद वह चुनाव नहीं लड़ पाए थे। हालांकि, भारत के चुनाव आयोग से हरी झंडी मिलने के बाद वह उपचुनाव में खड़े हुए थे। चुनाव आयोग ने उनकी अयोग्यता सीमा को छह वर्ष से घटाकर डेढ़ वर्ष कर दिया था। शपथ ग्रहण के बाद विधानसभा अध्यक्ष समेत सदन के सदस्यों ने नवनिर्वाचित विधायकों को बधाई दी। धन्यवाद ज्ञापन प्रस्तुत करते हुए मुख्यमंत्री पीएस गोले ने सभी मतदाताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं के प्रति आभार प्रकट किया। पूर्व सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, पहले विपक्षी दलों को सदन में प्रवेश करने नहीं देने के लिए षड़यंत्र किया जाता था। विपक्ष दल सत्ता पक्ष का समर्थन किया करते थे लेकिन एसकेएम पार्टी ने एक विपक्षी दल के उम्मीदवारों को समर्थन करके विजयी बनाया है। एसकेएम ने सिक्किम की राजनीति में नया इतिहास रचने का काम किया है। उल्लेखनीय है कि हाल ही में संपन्न विधानसभा उपचुनाव में सत्ताधारी एसकेएम और भाजपा ने गठबंधन की थी। राज्य के तीन विधानसभा क्षेत्रों में हुए उपचुनाव में एक सीट पर एसकेएम और दो पर भाजपा ने उम्मीदवार खडा किया था। उपचुनावों में एसकेएम और भाजपा के तीनों उम्मीदवारों ने जीत हासिल की। इस जीत के साथ ही भाजपा ने सिक्किम के राजनीतिक में इतिहास रचा। वाईटी लेप्चा और सोनाम भेंचुंगपा भाजपा के प्रथम निर्वाचित विधायक बन गए। विधायक वाईटी लेप्चा...

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.