Tue. Nov 19th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

खनिज संस्थान डीएमएफ पर प्रस्तावित कार्य योजना में अनियमितता का आरोप

1 min read
कोरबा  जिले के रामपुर क्षेत्र से भारतीय जनता पार्टी के विधायक और छत्तीसगढ़ के पूर्व गृहमंत्री ननकीराम कंवर ने जिला खनिज संस्थान न्यास यानी डीएमएफ कोरबा की वर्ष 2019- 20 की प्रस्तावित कार्य योजना में अनियमितता का आरोप लगाकर पुर्नविचार की मांग की है।
प्रदेश के कद्दावर आदिवासी नेता ननकीराम कंवर ने डीएमएफ की सचिव और कलेक्टर किरण कौशल को उक्त आशय का पत्र लिखा है। उन्होंने गत 14 अक्टूबर को संपन्न डीएमएफ की शासी परिषद की बैठक का उल्लेख कर प्रस्तावित कार्य योजना में कई प्रकार की अनियमितता का आरोप लगाया है। उन्होंने बैठक से पहले सदस्यों को कार्य योजना की प्रति उपलब्ध नहीं कराने पर आपत्ति जताई है। उन्होंने सदस्यों को राशि आवंटित करने में पक्षपात का आरोप लगाते हुए सांसद के साथ उनके प्रतिनिधि को भी राशि आवंटन किए जाने को अनुचित बताया है। साथ ही विधायकों को आवंटित राशि में भिन्नता पर भी उन्होंने आपत्ति की है।
विधायक कंवर ने संवैधानिक पद पर आसीन छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत को केवल कोरबा जिले में राशि आवंटित करने के औचित्य पर भी सवाल उठाया है। उन्होंने डीएमएफ की सचिव और कलेक्टर से यह भी पूछा है कि जिला कांग्रेस ग्रामीण कोरबा की अध्यक्ष को कार्य योजना में किस हैसियत से राशि का आवंटन किया गया है। विधायक कंवर ने अपने पत्र में सुझाव दिया है कि जिले के सभी क्षेत्रों में सभी विभागों के लिए योजना बनाकर राशि स्वीकृत करना उचित होता। उन्होंने स्वीकृत राशि पर आपत्ति करते हुए नियमानुसार कार्य योजना बनाकर पुनः बैठक आहूत करने की अपेक्षा की है।
हिन्दुस्थान सामाचार / हरीश तिवारी

Submitted By: Edited By: Gayatree Prasad Dhiwar “gaurav” Published By: Chandra Narain Shukla at Nov 7 2019 2:12P कंवर ने जिला खनिज संस्थान न्यास यानी डीएमएफ कोरबा की वर्ष 2019- 20 की प्रस्तावित कार्य योजना में अनियमितता का आरोप लगाकर पुर्नविचार की मांग की है।

प्रदेश के कद्दावर आदिवासी नेता ननकीराम कंवर ने डीएमएफ की सचिव और कलेक्टर किरण कौशल को उक्त आशय का पत्र लिखा है। उन्होंने गत 14 अक्टूबर को संपन्न डीएमएफ की शासी परिषद की बैठक का उल्लेख कर प्रस्तावित कार्य योजना में कई प्रकार की अनियमितता का आरोप लगाया है। उन्होंने बैठक से पहले सदस्यों को कार्य योजना की प्रति उपलब्ध नहीं कराने पर आपत्ति जताई है। उन्होंने सदस्यों को राशि आवंटित करने में पक्षपात का आरोप लगाते हुए सांसद के साथ उनके प्रतिनिधि को भी राशि आवंटन किए जाने को अनुचित बताया है। साथ ही विधायकों को आवंटित राशि में भिन्नता पर भी उन्होंने आपत्ति की है।
विधायक कंवर ने संवैधानिक पद पर आसीन छत्तीसगढ़ विधानसभा के अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत को केवल कोरबा जिले में राशि आवंटित करने के औचित्य पर भी सवाल उठाया है। उन्होंने डीएमएफ की सचिव और कलेक्टर से यह भी पूछा है कि जिला कांग्रेस ग्रामीण कोरबा की अध्यक्ष को कार्य योजना में किस हैसियत से राशि का आवंटन किया गया है। विधायक कंवर ने अपने पत्र में सुझाव दिया है कि जिले के सभी क्षेत्रों में सभी विभागों के लिए योजना बनाकर राशि स्वीकृत करना उचित होता। उन्होंने स्वीकृत राशि पर आपत्ति करते हुए नियमानुसार कार्य योजना बनाकर पुनः बैठक आहूत करने की अपेक्षा की है।

 

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.