Fri. Oct 18th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

ईओडब्ल्यू की एफआईआर रद्द करने की रैनबैक्सी के पूर्व सीईओ मलविंदर सिंह की याचिका पर हाईकोर्ट ने फैसला सुरक्षित रखा

नई दिल्ली,  दिल्ली हाईकोर्ट ने बैंक के साथ धोखाधड़ी करने के मामले में गिरफ्तार फोर्टिस हेल्थकेयर के पूर्व प्रमोटर और रैनबैक्सी कंपनी के पूर्व सीईओ मलविंदर सिंह की अपने खिलाफ आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) की ओर से दायर एफआईआर को निरस्त करने की मांग करने वाली याचिका पर सुनवाई करते हुए फैसला सुरक्षित रख लिया है। हाईकोर्ट इस बात पर फैसला सुनाएगा कि मलविंदर सिंह की याचिका सुनवाई योग्य है कि नहीं।
मलविंदर सिंह को गुरुवार को दिल्ली में गिरफ्तार किया गया था। मलविंदर सिंह के भाई और शिवेंद्र सिंह और तीन अन्य लोगों को भी इसी मामले में गिरफ्तार किया गया है। आरोप है रेलिगेयर इंटरप्राइजेज लिमिटेड की शिकायत पर इन्हें गिरफ्तार किया गया है।
आरोप है कि रेलिगेयर कंपनी में रहते हुए शिवेंद्र सिंह ने बैंकों से 2300 करोड़ रुपए का कर्ज लिया और उस पैसे को ग़लत तरीके से अपनी सहायक कंपनियों में ट्रांसफर कर दिया और बैंक का कर्ज जानबूझकर नहीं चुकाया। जब कंपनी रेलिगेयर फिनवेस्ट की हो गई तब पूरे घोटाले का खुलासा हुआ।
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.