Sun. Oct 13th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

हरियाणा विस चुनाव : मैदान में 1168 योद्धा, लेकिन आयोग की साइट पर महज

1 min read
चंडीगढ़, । हरियाणा विधानसभा के चुनावी रण में योद्धाओं की तस्वीर साफ हो चुकी है, लेकिन चुनाव आयोग की वेबसाइट पर अभी तक उम्मीदवारों की तस्वीर स्पष्ट नहीं है।हरियाणा चुनाव आयोग की ओर से अधिकारियों और राजनीतिक पार्टियों को अपडेट रहने के कड़े निर्देश जारी किए गए हैं पर खुद आयोग की हालत बहुत फिसड्डी है। उसकी वेबसाइट अपडेट नहीं है। विस चुनाव में 90 सीटों पर 1168 उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, जबकि आयोग की वेबसाइट पर अभी तक 743 उम्मीवार ही दिखाए जा रहे हैं।
वेबसाइट के आंकड़ों के अनुसार चार अक्टूबर तक 1804 उम्मीदवारों ने पर्चा दाखिल कराया। इसमें से 1263 नामांकन स्वीकार किए गए, जबकि 343 उम्मीदवारों के नामांकन खामियों के कारण रिजेक्ट कर दिए गए। 196 उम्मीदवारों ने नामांकन वापस ले लिया, मगर आयोग की वेबसाइट पर सभी 1167 उम्मीदवारों की सूची अपडेट नहीं हो पाई है। यही नहीं आयोग की ओर से जारी आंकड़ों में 1168 उम्मीदवारों की अंतिम सूची तैयार की गई है।

अहम पहलू यह भी है कि 7 अक्टूबर को उम्मीदवारों को चुनाव चिन्ह आवंटित किए जा चुके हैं, किंतु आयोग की वेब साइट पर मात्र 743 उम्मीदवारों की सूची ही अपडेट है। लिहाजा, आयोग की वेबसाइट देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है कि आयोग कितना अप-टू-डेट है।

यही नहीं आयोग की खामी थमती। वेबसाइट पर कुल 1804 नामांकन दिखाए गए हैं, जिनमें से 1263 के नामांकन स्वीकार किए गए हैं। जबकि खामियाें के चलते 343 उम्मीद्वारों का नामांकन रद्द किया जा चुका है और 196 उम्मीदवार नामांकन वापस ले चुके हैं। अब चौकाने वाली बात यह है कि इस सभी को मिलाकर इसका योग 1802 बनता है, जबकि चुनाव आयोग 1804 का आंकड़ा पेश कर रहा है।
यह है उम्मीदवारों की स्थिति :
चुनाव आयोग की रिपोर्ट के मुताबिक जिला अंबाला में 36, झज्जर में 58, कैथल में 57, कुरुक्षेत्र में 44, सिरसा में 66, हिसार में 118, यमुनानगर में 46, महेंद्रगढ़ में 45, चरखी-दादरी में 27, रेवाड़ी में 41, जींद में 63, पंचकूला में 24, फतेहाबाद में 50, रोहतक में 58, पानीपत में 40, मेवात में 35, सोनीपत में 72, फरीदाबाद में 69, भिवानी में 71, करनाल में 59, गुड़गांव में 54, पलवल में 35 उम्मीदवार चुनावी मैदान में हैं।
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.