Fri. Oct 18th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

मासूम सहित दंपत्ति की हत्या पर विहिप ने उठाए सवाल

कोलकाता, । मुर्शिदाबाद जिला के जियागंज थाना क्षेत्र में स्कूल शिक्षक बंधु प्रकाश पाल, गर्भवती पत्नी ब्यूटी पाल और बेटे अंगन पाल की हत्या के मामले में विश्व हिंदू परिषद ने तृणमूल को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने इसके लिए सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस की मुखिया ममता बनर्जी पर मुस्लिम तुष्टिकरण नीति का आरोप लगाया है और दावा किया है कि तृणमूल कार्यकर्ताओं ने ही बंधु प्रकाश की हत्या की है।

दरअसल प्राथमिक स्कूल के शिक्षक बंधु प्रकाश राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सक्रिय सदस्य थे। उनकी हत्या का जिक्र करते हुए विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय प्रवक्ता विनोद बंसल ने गुरुवार को ट्विटर के जरिए एक बयान साझा किया है। उन्होंने लिखा है कि आखिर और कितने हिंदुओं के प्राण लेंगे ये इस्लामिक जिहादी / तृणमूल के गुंडे और कब तक मुस्लिम तुष्टिकरण की नीति का शिकार होते रहेंगे हिन्दू? पश्चिम बंगाल में आरएसएस कार्यकर्ता, गर्भवती पत्‍नी और आठ साल के बेटे की धारदार हथियार से काटकर हत्या ने मानवता को किया शर्मसार..”

उल्लेखनीय है कि मूल रूप से जिले के सागरदीघी निवासी बंधु प्रकाश पाल 17 नंबर साहापुर प्राथमिक विद्यालय में शिक्षक थे। करीब पांच वर्षों से शिक्षक अपनी पत्‍‌नी ब्यूटी मंडल और बेटे के साथ जियागंज के लेबूतला में रह रहे थे। मंगलवार यानी विजय दशमी की सुबह करीब दस बजे प्रकाश बाजार से लौटे थे। शाम को स्थानीय लोगों ने पूजा पंडाल में उन्हें नहीं देखा था। स्थानीय लोगों ने देखा कि घर का दरवाजा खुला हुआ था अंदर जाकर देखा की तीनो का शव रक्तरंजित हालत में पड़ा हुआ है। इस मामले में 48 घंटे से अधिक का समय बीत जाने के बावजूद किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.