Sat. Oct 19th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

सेना में भर्ती कराने के नाम पर युवाओं को ठगने वाला फर्जी कैप्टन गिरफ्तार

1 min read

जबलपुर,  जबलपुर के गोरखपुर थाना पुलिस ने शहर के युवाओं को भारतीय सेना में भर्ती कराने का झांसा देकर लाखों रुपये की ठगी करने वाले एक आरोपित को गिरफ्तार किया है। वह खुद को सेना का कैप्टन बताता था और युवाओं को सेना में भर्ती कराने के एवज में उनसे पैसे लेता था। गिरफ्तार आरोपित की पहचान अभय रजक के रूप में हुई है।

गोरखपुर थाना प्रभारी उमेश तिवारी ने सोमवार को मामले का खुलासा करते हुए बताया कि कुछ युवाओं ने एक महीने पहले शिकायत की थी कि एक व्यक्ति खुद को आर्मी का कैप्टन बताता है और वह हमेशा सेना की जैक रायफल अंकित कॉम्बेट यूनिफॉर्म पहनता है। उसने सेना में नौकरी दिलाने के नाम पर कई लोगों से पैसे लिए हैं लेकिन नौकरी नहीं लगवाई। युवाओं ने बताया कि रजक ने आर्मी में भर्ती कराने के लिए उसने अभ्यर्थियों को जाली एडमिट कार्ड दिया और अपने साथ महू जिला इंदौर भर्ती के लिए लेकर गया, महू में आर्मी कैंट में इधर-उधर घुमाकर वापस ले आया और कहा कि भर्ती की बात हो गई है। 10-10 लाख रुपये लगेंगे, जबलपुर में ही भर्ती करवा दूंगा लेकिन किसी की भर्ती नहीं हुई। हालांकि इस दौरान उसने एडवांस के नाम पर सभी से एक-एक लाख रुपये ले लिए थे। चयन नहीं होने पर युवाओं को शक हुआ कि अभय रजक ने उनके साथ ठगी की है। इसके बाद उन्होंने पुलिस से शिकायत की।

टीआई तिवारी ने बताया कि युवाओं की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ धारा-420, 468, 471, 171 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर उसकी तलाश शुरू की। पुलिस ने उसे रविवार रात ग्राम रामपुर छापर से गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने अपना नाम सोनू रजक(30) बताया। वह भिटोनी थाना क्षेत्र के ग्राम नोनी शहपुरा का रहने वाला है। आरोपित रामपुर छापर में किराए के मकान में रह रहा था। पुलिस ने उसके पास से सेना की यूनिफार्म व अन्य सामान जब्त किया है। फिलहाल उससे पूछताछ की जा रही है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.