Tue. Dec 10th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

दो फेंसिडिल तस्कर समेत 16 घुसपैठिए गिरफ्तार, 125 मवेशी बरामद

1 min read
कोलकाता,  भारत बांग्लादेश सीमा पर तैनात सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों ने रविवार और सोमवार की दरमियानी रात विभिन्न सीमाई क्षेत्रों में कार्रवाई करते हुए दो फेंसिडिल तस्कर और 16 घुसपैठियों को गिरफ्तार किया। इसके अलावा विभिन्न माध्यमों से बांग्लादेश को तस्करी किये जा रहे 125 मवेशी और 1097 बोतल फेंसिडिल भी जब्त किया हैं। सोमवार दोपहर बीएसएफ की ओर से विज्ञप्ति के जरिए यह जानकारी दी गई है।
इस वर्ष अब तक बीएसएफ जवानों ने 219 भारतीय और 1124 अवैध घुसपैठियों (इन गिरफ्तारी सहित) को गिरफ्तार किया और 23,697 मवेशियों को जब्त किया है।
बताया गया है कि बॉर्डर आउटपोस्ट (बीओपी) हलधरपारा और विजयपुर‌ में सेक्टर कृष्णा नगर के बीएसएफ जवानों ने हरिशनगर पुल पर मजीदिया के तरफ से आ रहे स्कूटी और ऑटो रिक्शा को रोकर उसकी तलाशी ली। जिसमे से 384 बोतल फेंसिडिल बरामद किये। इस मामले में दो फेंसिडिल तस्करों को गिरफ्तार किया। गिरफ्तार व्यक्ति में से एक का नाम  बिप्लब बिस्वास (32) है। वह ग्राम- आदित्यपुर (विश्वासपारा), पोस्ट- मजीदिया, थाना- कृष्णागुंज, जिला- नादिया का निवासी है। दूसरे की पहचान सोरजीत विश्वास (18) के तौर पर हुई है। वह भी इसी गांव का निवासी है।
अन्य क्षेत्रों में भी तलाशी अभियान चलाकर जवानों ने कुल 1097 बोतलें फेंसिडिल जब्त किया, जिसका बाजार मूल्य 1,67,651 रुपये है। दूसरी कार्रवाई बीओपी- निमतिता एवं सोवापुर टीपी, सेक्टर मालदा के बीएसएफ जवानों ने मवेशियों को गंगा नदी के धारा में डालकर बांग्लादेश में तस्करी करने की कोशिश को विफल करते हुए 78 मवेशियों बरामद किया है। दक्षिण बंगाल सीमा में जवानों ने पशु तस्करी की कोशिश को विफल करते हुए 47 मवेशियों को जब्त किया।

अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास घुसपैठ के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जवानों ने बीओपी हाकीमपुर एवं तराली (थाना स्वरुपनगर के अंतर्गत) सीमावर्ती क्षेत्र से नौ बांग्लादेशी नागरिकों को, बीओपी अंग्रेल से तीन बांग्लादेशी और एक भारतीय नागरिकों (थाना गायघाटा के अंतर्गत) को, बीओपी गुणारमठ से एक बांग्लादेशी नागरिकों (थाना बॉनगाँव के अंतर्गत) को और बीओपी क्यजूरी से दो बांग्लादेशी नागरिकों (थाना स्वरुपनगर के अंतर्गत) को गिरफ्तार किया।
प्रारंभिक पूछताछ में सभी घुसपैठियों ने खुलासा किया कि वे दलाल की मदद से भारत में आए थे। सभी गिरफ्तार व्यक्तियों और जब्त मवेशियों/वस्तुओं को आगे की कानूनी कार्रवाई के लिए संबंधित पुलिस स्टेशनों को सौंप दिया गया है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.