Mon. Sep 16th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

सेंसेक्स ने लगाई 700 अंक की छलांग

1 min read
मुंबई,  अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के बयान के बाद भारतीय शेयर बाजारों में रिकवरी आई है। ट्रंप ने कहा है कि चीन ट्रेड पर फिर से बातचीत चाहता है। इस खबर के बाद लाल निशान में कारोबार करने वाला निफ्टी 11000 के करीब पहुंच गया। सेंसेक्स ने भी 700 अंकों की छलांग लगाई। अमेरिका का डाओ फ्यूचर इंडेक्स में भी निचले स्तरों से शानदार रिकवरी देखने को मिली है।
सोमवार को शेयर बाजार ने सुस्ती में कारोबार की शुरुआत की थी। इसके बाद बिकवाली हावी होने लगी और गिरावट बढ़ गई। बैंक निफ्टी ने पूरी बढ़त गंवा दी थी। बैंक निफ्टी ऊपर से करीब 750 प्वाइंट गिरा, तो वहीं, निफ्टी ऊपरी स्तर से करीब 230 प्वाइंट फिसला था। सेंसेक्स भी ऊपर के लेवेल से करीब 820 प्वाइंट फिसल गया था। इसने 10492 अंक तक गोता लगाया था। मेटल शेयरों में भारी बिकवाली देखने को मिली और मेटल इंडेक्स तीन साल के निचले स्तर पर पहुंच गया था। जैसे ही शेयर बाजार में ट्रेड वॉर पर चर्चा की खबर तेज हुई सेंसेक्स और निफ्टी का इंडेक्स भी बदलने लगा।
ट्रंप के बयान ने मेटल शेयरों को सहारा दिया। वेदांता, टाटा स्टील, जेएसडब्ल्यू स्टील नीचे से करीब 3 फीसदी सुधरे हैं। हालांकि ऑटो शेयरों में मुनाफा वसूली देखने को मिल रही है। निफ्टी ऑटो इंडेक्स दिन के ऊपरी स्तर से साढ़े 4 फीसदी फिसल गया है।
फिलहाल एंड पी बीएसई सेंसेक्स 37,378.50 अंक तक छलांग लगा चुका है और इसमें अब तक +677.34 अंक या +1.85 फीसदी की भारी तेजी देखी जा रही है। एस एंड पी बीएसई 100 इंडेक्स भी +184.80 अंक या +1.69 फीसदी की उछाल के साथ 11,100.26 अंक पर नजर आ रहा है। इसी तरह, एस एंड पी बीएसई के मिडकैप इंडेक्स में भी +171.27 अंक या +1.30 फीसदी की तेजी दर्ज हो चुका है और यह 13,373.35 अंक पर हरे निशान में ट्रेंड कर रहा है। एस एंड पी बीएसई स्मॉलकैप इंडेक्स भी 12,344.47 अंक पर कारोबार कर रहा है। इसमें भी +158.36 अंक या +1.30 फीसदी की बढ़त हासिल हो चुकी है। एस एंड पी बीएसई 200 इंडेक्स फिलहाल +73.92 अंक या +1.64 फीसदी की बढ़त बनाने में सफल रहा है।
नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ़्टी भी 197.85 अंक या 1.83 फीसदी की अब तक कि सबसे ज्यादा उछाल हासिल करने में सफल रहा है और यह 11,027.20 अंक पर हरे निशान में ट्रेंड कर रहा है। निफ़्टी की 37 कंपनियों के शेयर्स हरे निशान में हैं, जबकि 13 कंपनी लाल निशान में चली गई हैं। सेक्टोरल इंडेक्स में निफ़्टी बैंक 2.95 फीसदी, निफ़्टी ऑटो 0.29 फीसदी, निफ़्टी एफएमसीजी 1.27 फीसदी, निफ़्टी आईटी 0.61 फीसदी, निफ़्टी मीडिया 2.89 फीसदी, निफ़्टी फॉर्मा 0.25 फीसदी, निफ़्टी पीएसयू बैंक 3.06 फीसदी, निफ़्टी प्राइवेट बैंक 2.88 फीसदी और निफ्टी रियल्टी 2.86 फीसदी की उछाल दर्ज कर चुके हैं। निफ़्टी मेटल फिलहाल गिरावट से उबरने के प्रयास में है। इसमें -1.44 फीसदी की गिरावट देखी जा रही है।
Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.