Thu. Sep 12th, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

सरकार की घोषणा से निर्यात को मिलेगी तेजी : उद्योग संगठन

मुंबई,  उद्योग संगठनों ने घरेलू अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए सरकार की नई घोषणाओं की सराहना की है। उद्योग जगत का कहना है कि सरकार ने जो नई घोषणा की है, उससे अर्थव्यवस्था को स्थिरता मिलेगी तथा निर्यात को बढ़ावा मिलेगा। हालांकि जीएसटी के टैक्स स्लैब को लेकर सरकार को फिर से विचार करना चाहिए।

भारतीय उद्योग परिसंग (सीआईआई) ने कहा कि सरकार की ओर से यह कदम ऐसे समय में उठाये गये हैं, जब वैश्विक अर्थव्यवस्था मंदी की ओऱ बढ़ रही है। व्यापार में सुस्ती का माहौल है। अमेरिका – चीन के ट्रेड वॉर समेत अन्य कई वैश्विक कारकों से अर्थव्यवस्था संकटों से जूझ रही है। सीआईआई ने कहा कि विश्व के दो सबसे बड़े व्यापारिक देशों की ओर से उठाये जा रहे प्रतिगामी कदमों को देखते हुए शेयर बाजारों पर दबाव बना हुआ है। भारत पर भी असर है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले सप्ताह जो आर्थिक पैकेज घोषित किए हैं, उससे आर्थिक स्थिरता आएगी और देश की वृद्धि को नई गति मिलेगी।

सीआईआई के अध्यक्ष विक्रम किर्लोस्कर ने कहा कि आर्थिक पैकेज का प्रभाव महत्वपूर्ण रहने का अनुमान है। उन्होंने कहा कि यह सराहनीय है कि राजकोषीय घाटा पर बिना दबाव डाले बहुक्षेत्रीय कदम उठाये गए हैं।
ट्रेडर्स एसोसिएशन के एक सदस्य ने बताया कि आईटी ट्रेडिंग सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए सरकार को टैक्स स्लैब में कमी करनी होगी। अधिकतर पार्ट्स को 18 फीसदी के दायरे में रखा गया है। टैक्स रिटर्न फाइलिंग से भी ट्रेडर्स की समस्या बढ़ती रही है। इस पर सरकार को ध्यान देना चाहिए।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.