Wed. Aug 21st, 2019

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

लेवल क्रॉसिंगों पर सुगम आवाजाही के लिए पूसीरे की पहल

गुवाहाटी,  पूर्वोत्तर सीमा रेलवे (पूसीरे) ने सड़क के करीब स्थित कई क्रासिंग गेटों के सामान्य स्थिति में बदलाव किया है यानी कि ऐसे गेट सड़क उपभोक्ताओं के पैसेज के लिए सड़क यातायात के लिए अब हमेशा खुले रहेंगे। इन गेटों को सिर्फ ट्रेनों के गुजरने के समय सड़क यातायात के लिए बंद किया जाएगा।

पूर्वोत्तर सीमा रेलवे (पूसीरे) के सभी जोन में कुल 1,499 मानवयुक्त लेवल क्रॉसिंग हैं, जो विभिन्न राज्यों में स्थित हैं। प्रत्येक लेवल क्रॉसिंग गेट पर एक व्यक्ति नियुक्त है, जिसकी जिम्मेदारी गेट को बंद करने एवं खोलने की है। इन लेवल क्रॉसिंगों पर परिचालन के लिए एक निर्धारित प्रणाली होती है, जो ट्रेनों और सड़क वाहनों के सुरक्षित फासले को सुनिश्चित करता है, जिससे कि वे एक दूसरे के सम्पर्क में न आ पाए। प्रत्येक गेट का कार्य करने का साधारण स्थान होता है। इसका मतलब हुआ की जिस जगह पर गेट है, वहां से कोई भी ट्रेन नहीं गुजरती है। कई लेवल क्रॉसिंग गेटों पर सामान्य स्थान सड़क यातायात के करीब होता है। यहां सड़क वाहनों को पार करने के लिए गेटों को हमेशा बंद रखना होता है। इन गेटों को तभी खोला जा सकता है, जब कोई ट्रेन नहीं गुजरने वाली हो।

पूसीरे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी पीजे शर्मा ने बताया कि सड़क पर वाहनों की संख्या में वृद्धि हुई है। इस कारण इन गेटों पर लंबे समय तक सड़क यातायात बंद रखने से लोगों को असुविधाओं का सामना करना पड़ता है। इस दौरान गेट खोलने के लिए गेटमैन पर दवाब रहता है और उन्हें तनाव में काम करना पड़ता है। इसके मद्देनजर पूसीरे ने 558 गेटों में प्रणाली का बदलाव किया है, जिसके चलते अब सड़क प्रयोकर्त्ताओं को लेवल क्रॉसिंग गेटों पर उनके खुलने तक लंबे समय तक इंतजार करने के छुटकारा मिल गया है। गेटों के परिचालन को भी कम तनावग्रस्त एवं सुगम बना दिया गया है। पूसीरे की इस पहल को सराहना मिल रही है।

उल्लेखनीय है कि यातायाता के घनत्व और सड़क पर वाहनों की भीड़ को ध्यान में रखते हुए पूसीरे संभावनाओं के आधार पर विभिन्न स्थानों पर सड़क ऊपरी पुलों और सड़क निचली पुलों का निर्माण भी कर रही है।

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.