Fri. Jan 24th, 2020

नेक्स्ट फ्यूचर

भविष्य की ओर अग्रसर

येचुरी ने किया हिन्दू संस्कृति का अपमान: सत्यमित्रानंद

हरिद्वार। माकपा नेता सीताराम येचुरी द्वारा हिंदुओं को हिंसक बताने और भगवान राम व कृष्ण के बारे में की गई टिप्पणी को लेकर हरिद्वार के संत समाज ने घोर आपत्ति जताई है। निवर्तमान शंकराचार्य स्वामी सत्यमित्रानंद गिरि ने एक बार फिर रविवार को कहा कि येचुरी ने हिंदू को हिंसक बताकर हमारी संस्कृति का अपमान किया है। हिंसा वह होती है जिसके बाद में मन दुखी हो। इतना ही नहीं सत्यमित्रानंद ने तो यहां कह दिया है कि येचुरी को यदि कोई तोप से भी उड़ा दे तो यह कोई हिंसा नहीं होगी।
सत्यमित्रानंद ने कहा कि उनके इस भाषणा को बाद यदि उन्हें जेल में भी डाल दिया जाएगा तो इसकी उन्हें कोई चिंता नहीं है। सब लोगों को मिलकर सीताराम येचुरी का नाम बदलना चाहिए। येचुरी हिंदू संस्कृति और धार्मिक ग्रंथों को बिना पढ़े ही अमर्यादित बयान देकर सनातन संस्कृति का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि हिंदुओं को हिंसक बताकर सीताराम येचुरी अपने नाम के विपरीत आचरण कर रहे हैं। उन्हें अपने बयान के लिए हिंदू समाज से सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। 

Copyright © All rights reserved. | Newsphere by AF themes.